ads

तालिबान के कब्जे के बावजूद अफगानिस्तान में होगी घरेलू टी20 लीग, बोर्ड ने लिया ये बड़ा फैसला

 

नई दिल्ली। अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद उपजे हालात के बीच अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड (एसीबी) घरेलू टी20 टूर्नामेंट शपागीजा क्रिकेट लीग का विस्तारित ढंग से 10 से 25 सितंबर तक यहां काबुल क्रिकेट स्टेडियम में आयोजन करेगा। इस लीग में दो और टीमों को शामिल करने के साथ ही फ्रेंचाइजों की कुल संख्या आठ हो गई है। यह इस लीग का आठवां संस्करण होगा।

काबुल में एसीबी के मुख्य कार्यालय में आयोजित एक समारोह में गुरुवार को सभी आठ फ्रेंचाइजी के स्वामित्व अधिकार बेचे गए। इन आठ फ्रेंचाइजों में हिंदुकुश स्टार्स, पामिर जालमियां, स्पीनघर टाइगर्स, काबुल इगल्स, एमो शार्क्‍स, बोस्ट डिफेंडर्स, बंद-ए अमिर ड्रेगंस, मिस ए एइनाक नाइट्स हैं। हिंदुकुश स्टार्स और पामिर अलियान नई फ्रेंचाइजी हैं।

यह खबर भी पढ़ें:—न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के लिए मुशफिकुर और लिटन की बांग्लादेश टीम में वापसी

एसीबी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हामिद शिंवारी ने बयान जारी कर कहा, इस बार एससीएल दर्शकों और प्रशंसकों को एक नया अनुभव प्रदान करेगा। यह खिलाड़ियों के लिए आर्थिक रूप से भी बहुत अच्छा होगा। उन्होंने गुरुवार को इस टूर्नामेंट की तारीखों का ऐलान किया। इस दौरान नई टीमों के बारे में भी जानकारी दी गई।

बोर्ड का यह फैसला चौंकाने वाला है। क्योंकि इस वक्त अफगानिस्तान में हालात काफी भयावह हैं। चरमपंथी संगठन तालिबान ने काबुल समेत पूरे देश पर कब्जा कर लिया है। पिछले दिनों काबुल एयरपोर्ट का एक वीडियो सामने आया था जिसमें लोग अमरीकी सेना के एयरक्राफ्ट से गिरते हुए दिखाई दे रहे थे। अफगानिस्तान से अब तक तमाम दिल दहला देने वाली तस्वीरें और वीडियो सामने आए हैं। ऐसे माहौल में इस घरेलू टूर्नामेंट का आयोजन कराने का फैसला हैरान करने वाला है।



Source तालिबान के कब्जे के बावजूद अफगानिस्तान में होगी घरेलू टी20 लीग, बोर्ड ने लिया ये बड़ा फैसला
https://ift.tt/3mguRtW

Post a Comment

0 Comments