ads

ऑस्ट्रेलियाई टिम पेन ने किया खुलासा, बोले-'धीमी ओवर गति का जुर्माना सहना करना मुश्किल था'

 

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के टेस्ट कप्तान टिम पेन (Australia Test Team Captain Tim Paine) ने खुलासा करते हुए कहा है कि धीमी ओवर गति के कारण विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में एक स्थान से जगह नहीं बना पाने को सहन करना मुश्किल रहा था। उन्होंने इस बात को स्वीकार किया कि पिछले साल मेलबर्न में भारत के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया की विश्व टेस्ट चैंपियनशिप से चार अंक की कटौती के कारण साउथम्पटन में हुए इस चैंपियनशिप का फाइनल (WTC Final) मुकाबला देखने में उन्हें कठिनाई हुई थी।

यह खबर भी पढ़ें:—कामरान बोले-'वो लगा कोहली को कप्तानी से हटाने की सलाह दे रहे हैं जिन्होंने कभी गली की टीम भी कप्तानी नहीं की'

'धीमी ओवर गति के चलते फाइनल नहीं खेल पाए'
पेन ने कहा, ‘मैंने फाइनल मुकाबले को ज्यादा नहीं देखा। मैंने सिर्फ अंतिम दिन देखा था। मैं पहले दिन इसे देखने के लिए उत्साहित था लेकिन फिर मैंने इसे नहीं देखा।’ उन्होंने कहा, ‘मुझे इस बात से निराशा हुई कि हम फाइनल में धीमी ओवर गति के कारण नहीं पहुंच सके। हमने हमेशा चीजें बेहतर करने की कोशिश की लेकिन दुर्भाग्य से यह हमेशा काम नहीं करता।’ पेन ने गलती से उल्लेख किया कि ऑस्ट्रेलिया एकमात्र टीम थी जिसके अंक कटे थे जबकि 2020 में जोहान्सबर्ग में इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट मैच में तीन ओवर पीछे रहने की वजह से दक्षिण अफ्रीका के छह अंक काटे गए थे।

यह खबर भी पढ़ें:—धवन के लिए श्रीलंका का दौरा अहम, लक्ष्मण ने बताया कारण

दूसरे संस्करण में इंग्लैंड के खिलाफ पहला मुकाबला खेलेगी ऑस्ट्रेलिया
पेन ने कहा, ‘हम अपने ओवर के कारण पीछे रह गए हैं। मैं सिर्फ निरंतरता की बात कर रहा हूं। मेरी जानकारी में कोई अन्य टीम ऐसी नहीं है जिसके अंक काटे गए हो।’ उन्होंने कहा, ‘इस बात को सहन कर पाना काफी मुश्किल है जब आपको पता चले कि आप एकमात्र टीम है जिसके अंक कटे हैं।’ इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिस्बेन में खेले जाने वाला मुकाबला विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के दूसरे संस्करण में ऑस्ट्रेलिया का पहला मैच होगा।



Source ऑस्ट्रेलियाई टिम पेन ने किया खुलासा, बोले-'धीमी ओवर गति का जुर्माना सहना करना मुश्किल था'
https://ift.tt/3dN0juL

Post a Comment

0 Comments