ads

मिताली राज ने कोहली, रोहित और द्रविड़ को पीछे छोड़ इंग्लैंड में हासिल की ये खास उपलब्धि

नई दिल्ली। मिताली राज (mithali raj) की अगुवाई वाली भारतीय महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड के हाथों वनडे सीरीज बुरी तरह हार गई है। लेकिन मिताली ने अपने नाम एक और नया रिकॉर्ड दर्ज करा लिया है। दरअसल, वह वनडे इंटरनेशनल में इंग्लैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा बार 50 प्लस रन बनाने वाली भारतीय महिला क्रिकेटर बन गई हैं। इस मामले में उन्होंने पुरुष टीम के दिग्गज बल्लेबाज रोहित शर्मा (rohit sharma), विराट कोहली (virat kohli) और पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ (rahul dravid) को भी पीछे छोड़ दिया है।
यह खबर भी पढ़ें:—वनडे क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले 5 बल्लेबाज

इंग्लैंड के खिलाफ 14 बार 50 प्लस रन बना चुके हैं मिताली
मिताली राज ने इंग्लैंड के खिलाफ मौजूदा वनडे सीरीज के दोनों मैच में अर्धशतकीय पारी खेली है। उन्होंने इंग्लैंड में पहली पारी में 72 और दूसरी पारी में 59 रन की पारी खेली है। इसके साथ ही उनके इंग्लैंड में 50 प्लस पारियों की संख्या 14 हो गई है। मिताली राज ने 1999 से अब तक इंग्लैंड में 40 वनडे खेले हैं, जिसमें वह 2 शतक भी लगा चुकी हैं। मिताली का इंग्लैंड में उच्चतम स्कोर नाबाद 114 रन है।

रोहित और विराट बना चुके हैं 13 बार 50 प्लस रन
रोहित शर्मा ने 2013 से अब तक इंग्लैंड में 24 वनडे मैच खेले हैं। इनमें उन्होंने 13 बार 50 या उससे अधिक रन बनाए हैं। वह इंग्लैंड में 7 शतक और 6 अर्धशतक लगा चुके हैं। उनका हाइएस्ट स्कोर 140 रन रहा है। वहीं विराट कोहली भी अब तक इंग्लैंड में 13 बार 50 या उससे अधिक रन बना चुके हैं। इसमें उन्होंने 12 अर्धशतक और एक शतकीय पारी खेली है। विराट अब तक इंग्लैंड में 31 वनडे मैच खेल चुके हैं।

यह खबर भी पढ़ें:—यूनिस खान ने अफरीदी पर लगाया गंभीर आरोप, बोले-'कप्तानी की लालसा में बगावत की थी'

तीसरे नंबर पर हैं राहुल द्रविड़
इंग्लैंड में सबसे ज्यादा बार 50 प्लस रन बनाने के मामले में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर हैं। उन्होंने 1996 से 2011 के दौरान इंग्लैंड में 32 वनडे खेले। इसमें उन्होंने 11 अर्धशतकीय और 2 शतकीय पारियां खेलीं। इस दौरान उन्होंने 45.85 के औसत से 1238 रन बनाए। उनका उच्चतम स्कोर 145 रन रहा।



Source मिताली राज ने कोहली, रोहित और द्रविड़ को पीछे छोड़ इंग्लैंड में हासिल की ये खास उपलब्धि
https://ift.tt/3dBimny

Post a Comment

0 Comments