ads

रोडवेज परिचालक भर्ती के लिए ऐसे बनवाएं कंडक्टर लाइसेंस, जानिए क्या होनी चाहिए योग्यता

Roadways Conductor Recruitment: देश भर में सभी राज्यों के परिवहन विभाग द्वारा समय-समय पर रोडवेज में ड्राइवर, कंडक्टर और आर्टिजन ग्रेड सहित अन्य पदों पर भर्तियां निकाली जाती हैं। इनमें से रोडवेज परिचालक के पदों पर भर्ती के लिए 12वीं पास युवा आवेदन के पात्र होते हैं। रोडवेज विभाग में रिक्त पदों पर कर्मचारियों की भर्ती संविदा स्तर पर भी की जाती है। रोडवेज में चालक और परिचालक के पदों पर सीधी भर्ती राज्य सरकार द्वारा स्वीकृति मिलने के बाद शुरू की जाती है। राजस्थान रोडवेज में पिछले 8 वर्षों में कोई भर्ती नहीं निकाली गई है। रोडवेज परिचालक पद पर भर्ती के लिए मांगी जाने वाली पात्रता के बारे में निचे विस्तृत जानकारी दी गई है।

Read More: राजस्थान में सरकारी नौकरियों का फिर से खुला पिटारा, कुल 4578 पदों के लिए जल्द करें अप्लाई

रोडवेज कंडक्टर भर्ती के लिए जरुरी योग्यता
रोडवेज परिचालक भर्ती के लिए शैक्षणिक योग्यता के तौर पर 10वीं और 12वीं पास युवाओं से आवेदन मांगे जाते हैं। रोडवेज परिचालक पद के लिए जरुरी योग्यता के तौर पर उम्मीदवार के पास परिचालक का लाइसेंस और बैज होना जरुरी है। परिवहन विभाग द्वारा बैज आउट ऑफ़ स्टॉक होने की स्थिति में बिना बैज के भी आवेदन किया जा सकता है। परिचालक लाइसेंस के लिए प्राथमिक चिकित्सा हेतु st john ambulance का प्रमाण पत्र भी होना जरुरी है । शारीरिक रूप से दक्ष युवा ही आवेदन कर सकते है। इस भर्ती के लिए महिला उम्मीदवारों को भी कुल पदों में से सरकार के नियमानुसार आरक्षण देय है।

Read More: 10वीं और 12वीं पास के लिए निकली सीधी भर्ती, आवेदन प्रक्रिया जल्द होगी शुरू

चयन प्रक्रिया
रोडवेज कंडक्टर भर्ती के लिए उम्मीदवारों का चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाता है। लिखित परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर ही पदों के अनुरूप वरीयता सूची तैयार की जाती है। दस्तावेज सत्यापन के बाद नियुक्ति प्रक्रिया पूरी की जाती है।

Read More: राजस्थान पुलिस एसआई भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया शुरू, यहां से करें अप्लाई

ऐसे बनवाएं प्राथमिक चिकित्सा प्रमाण पत्र
प्राथमिक चिकित्सा सिखने के लिए चिकत्सालय से प्रशिक्षण प्राप्त करना जरुरी होता है। ऐसे में रेडक्रॉस हॉस्पिटल द्वारा करवाया जाने वाला st. john ambulance प्राथमिक चिकित्सा का प्रशिक्षण दिया जाता है। यह कोर्स 4 दिवस का है। सोमवार को प्रशिक्षण के लिए शुल्क भुगतान और आवेदन किया जाता है। अंतिम दिन प्रमाण पत्र दिए जाते हैं। यह प्रमाण पत्र 6 महीने की अवधि के लिए वैद्य होता है। इसके बाद डाक द्वारा प्रमाण पत्र भेज दिया जाता है जो एक निश्चित अवधि के लिए वैद्य होता है, जिसे तय शुल्क देकर नवीनीकरण किया जा सकता है। याद रखें आवेदन फॉर्म सोमवार को ही फॉर्म भरे जाते हैं और प्रशिक्षण इसी दिन से शुरू होता है।

 

Rajasthan Roadways Cundoctor Bharti Latest Update

 

कैसे बनवाएं रोडवेज कंडक्टर लाइसेंस
'रोडवेज परिचालक लाइसेंस कैसे बनवाएं' हमेशा सर्च किया जाता है। रोडवेज परिचालक का लाइसेंस बनवाने के लिए जितना जल्दी हो सके, समय निकाल लेवें। परिचालक लाइसेंस बनवाने पहले प्राथमिक चिकित्सा प्रमाण पत्र लेना होगा। प्राथमिक चिकित्सा सिखने के लिए रेडक्रॉस हॉस्पिटल जाना होगा और फॉर्म भरकर क्लासेज लेनी होगी। रेडक्रॉस द्वारा प्रशिक्षण के बाद प्रमाण पत्र और मेडिकल सर्टिफिकेट दिया जाएगा। आगे की प्रक्रिया जिला परिवहन कार्यालय में होगी। सभी शैक्षणिक दस्तावेजों, मेडिकल और प्राथमिक चिकित्सा प्रमाण पत्र के साथ परिचालक लाइसेंस आवेदन फॉर्म भरना होगा। आवेदन फॉर्म को जिला परिवहन अधिकारी के समक्ष आवेदन शुल्क सहित पेश करके मार्क करवाना होगा। जिला परिवहन कार्यालय द्वारा अभ्यर्थी के संबंधित पुलिस थाने में वाया पुलिस अधीक्षक वेरिफिकेशन भेजा जाएगा। पुलिस द्वारा जारी चरित्र प्रमाण पत्र के साथ पुनः परिवहन कार्यालय में जाना होगा। परिवहन कार्यालय में चरित्र प्रमाण पत्र और सभी दस्तावेजों के साथ आवेदन पत्र को फिर से संबंधित अधिकारी के पास ले जाना होगा, परिवहन अधिकारी द्वारा हस्ताक्षर किए जाने के बाद परिचालक का लाइसेंस बना दिया जाता है। परिचालक लाइसेंस जारी करने में लगभग एक महीने का समय लगता है। यह लाइसेंस डाक द्वारा घर के पते पर भेजा जाता है। वर्तमान में राजस्थान परिवहन विभाग द्वारा कार्यालय के अंदर ही लाइसेंस वितरण की सुविधा उपलब्ध करवा दी गई है।

Web Title: Roadways Bharti Latest Update: Here's How To Make Conductor Licence



Source रोडवेज परिचालक भर्ती के लिए ऐसे बनवाएं कंडक्टर लाइसेंस, जानिए क्या होनी चाहिए योग्यता
https://ift.tt/3vnPYeU

Post a Comment

0 Comments