ads

शाकिब अल हसन की तरह ये 5 स्टार खिलाड़ी भी मैदान पर दिखा चुके हैं अपना गुस्सा

नई दिल्ली। बांग्लादेशी ऑलराउंडर शाकिब अल हसन (Shakib al hasan) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीें ले रही हैं। ढाका प्रीमियर (Dhaka Premier) में अंपायर के फैसले पर आपत्ति जताने और गुस्सा जाहिर करने के मामले में उन पर 3 मैचों का बैन और 5 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। दरअसल, क्रिकेट मैच में शाकिब (Shakib) ने अंपायर से एलबीडब्ल्यू की अपील की थी जिसे ठुकराने के बाद वे गुस्सा हो गए और उन्होंने स्टंप्स को लात मारी और अंपायर से बदतमीजी की थी। हालांकि, क्रिकेट के इतिहास में यह मामला नहीं जब किसी खिलाड़ी ने अंपायर से बदतमीजी की हों बल्कि इससे पहले भी कई खिलाड़ी ऐसा कर चुके हैं। आइए जानते हैं उन 5 खिलाड़ियों के बारे में जो अंपायर के फैंसलों पर आपत्ति जताने के बाद अपना आपा खो बैठे थे।

यह भी पढ़ें— पाकिस्तान टीम में आजम खान के सलेक्शन पर फैंस नाराज, कहा- पिता की वजह से हुआ

 

ms_dhoni.jpg

महेंद्र सिंह धोनी
टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी वैसे तो हमेशा मैदान पर बहुत ही शांत नजर आते हैं, लेकिन वर्ष 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक मैच में वह अंपायर से उलझ पड़े थे। यह वाकया सीबी सीरीज के एक मैच के दौरान का है जब धोनी ने माइक हसी के स्टम्पिंग की अपील की थी। रिप्ले में साफ दिखा था कि हसी क्रीज के अंदर हैं, लेकिन तीसरे अंपायर ने उन्हें आउट करार दिया था। लेकिन इस गलती को समझाते हुए मैदानी अंपायर बिली बाउडन ने हसी को वापस बुला लिया था। इस पूरी घटना से नाखुश धोनी गुस्से में बिली बाउडन के साथ भिड़ गए थे।

रोहित शर्मा और प्रवीण कुमार
क्रिकेट के मैदान पर वैसे तो रोहित शर्मा हमेशा शांत नजर आते हैं। लेकिन वर्ष 2011—12 में ऑस्ट्रेलिया दौरे के दौरान एक फैन को उनके गुस्से का सामना करना पड़ा था। दरअसल, रोहित और प्रवीण कुमार मैदान पर प्रैक्टिस कर रहे थे, उस समय एक फैन ने कुछ आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया। इसक कारण रोहित और प्रवीण को बेहद गुस्सा आया। प्रवीण ने स्टंप दिखाकर मारने की धमकी दी थी। वहीं रोहित भी अपना आपा खो बैठे थे।

डिकॉक के साथ हाथापाई पर उतर आए थे वॉर्नर
यह वाकया वर्ष 2018 का है। एक टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर क्विंटन डिकॉक और ऑस्ट्रेलियाई टीम के सलामी बल्लेबाज डेविड वॉर्नर के बीच हाथापाई की नौबत आ गई थी। दरअसल, जब दिन का खेल समाप्त होने के बाद दोनों टीमें पेवेलियन लौट रही थी तभी वॉर्नर ने डिकॉक को मारने की कोशिश की थी। हालांकि खिलाड़ियों के बीच बचाव करने के बाद मामला शांत हो गया था।

यह भी पढ़ें:—WTC Final: सिराज को फाइनल खेलते देखना चाहते हैं वॉर्नर

जावेद मियांदाद और डेनिस लिली
70 के दशक का है यह वाकया। इस दौरान पाकिस्तान टीम ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई थी तभी एक टेस्ट मैच के दौरान ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज डेनिस लिली और पाकिस्तानी बल्लेबाज जावेद मियांदाद के बीच झगड़ा हो गया था। इस दौरान मियांदाद को लिली ने लात मारी थी तो पाकिस्तानी खिलाड़ी ने बैट से मारने की कोशिश की थी।

अंपायर से भिड़ गए थे रणतुंगा
वर्ष 1999 में श्रीलंकाई टीम ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था। इस दौरान टेस्ट सीरीज के बाद त्रिकोणीय सीरीज खेली गई थी। इसमें इंग्लैंड की टीम ने भी हिस्सा लिया था। एडिलेड ओवल के मैदान पर इंग्लैंड की टीम बल्लेबाजी कर रही थी और 15 ओवर खत्म होने के बार अर्जुन रणतुंगा ने मुथैया मुरलीधरन को गेंदबाजी थमाई। इस दौरान अंपायर ने मुरलीधरन के एक्शन पर आपत्ति जताई तो रणतुंगा ने अपनी पूरी टीम को क्रीज के पास बुलाया और अपनी बात रखते हुए उनसे बहस करने लगे थे। रणतुंगा ने बताया कि मुरलीधरन का एक्शन एकदम सही है और उन्हें आईसीसी से क्लीन चिट मिली हुई है।



Source शाकिब अल हसन की तरह ये 5 स्टार खिलाड़ी भी मैदान पर दिखा चुके हैं अपना गुस्सा
https://ift.tt/3xg5St0

Post a Comment

0 Comments